Chandigarh Crime : दिल्ली में आटो चालकने महिला की लूटी आबरू, सुनसान जगह पर फेंक भागा

273
religious conversion has come to light in Fatehpur district of Uttar Pradesh

Chandigarh Crime: दोस्त से मिलने दिल्ली से चंडीगढ़ आई महिला ऑटो चालक की क्रूरता का शिकार हो गई। आरोप है कि रविवार देर रात बारिश के दौरान ऑटो चालक ने पीड़िता को डरा धमका कर ऑटो में ही उसके साथ बदसलूकी की और इज्जत लुटी।

घटना सेक्टर-17 स्थित नीलम पुलिस चौकी से कुछ कदम की दूरी पर हुई। दुष्कर्म के बाद आरोपी पीड़िता को मौके पर ही छोड़कर फरार हो गया।

हालांकि सेक्टर 17 थाना पुलिस ने चंद घंटों में ही आरोपी को पकड़ लिया। उसकी पहचान ग्राम डडवा निवासी 27 वर्षीय जयप्रकाश के रूप में हुई है। पुलिस ने सोमवार को उसे कोर्ट में पेश किया। जहां से उसे न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया।

करीब 35 वर्षीय पीड़िता शनिवार दोपहर शहर के मौलीजागरां में अपने दोस्त से मिलने आई थी। हालांकि, किसी कारण से वह अपने दोस्त से नहीं मिल सकी। इसी वजह से वह शाम को लौटने के लिए रेलवे स्टेशन गई थी।

उन्हें दिल्ली के लिए बस पकड़ने के लिए आईएसबीटी सेक्टर-17 जाना पड़ा। इसके लिए उन्होंने रात करीब 10 बजे एक ऑटो किराए पर लिया। आरोप है कि ऑटो चालक पीड़िता को सेक्टर-17 लेकर आया, और इस दौरान उसने पीड़िता के साथ दुराचार किया।

हरियाणा मिनी सचिवालय में तैनात होमगार्ड ने की पीड़िता की मदद

हरियाणा मिनी सचिवालय, सेक्टर-17 में तैनात होमगार्ड के तीन स्वयंसेवकों ने पीड़िता को सुनसान जगह पर रोते हुए देखा। उसने पास जाकर महिला से पूछताछ की तो पीड़िता ने आप बीती बताई।

इस पर होमगार्ड वालंटियर ने तुरंत पुलिस को सूचना दी। सूत्रों के मुताबिक आरोपी को होमगार्ड वॉलंटियर ने पकड़ लिया है। हालांकि चंडीगढ़ पुलिस उपस्थिति के आधार पर आरोपी को गिरफ्तार करने का दावा कर रही है।

शहर में पहले भी हो चुकी है ऐसी घटनाएं

मोहाली के पीजी में रहने वाली 21 साल की लड़की के साथ नवंबर 2017 में सेक्टर-53 में ऑटो चालक समेत तीन लोगों ने सामूहिक दुष्कर्म किया था।

इस मामले में विशेष अदालत की तत्कालीन एडीजे ने तीनों दोषियों को अंतिम सास तक आजीवन कारावास की सजा सुनाई थी।

इससे पहले भी सेक्टर 34 स्थित कॉल सेंटर से रात में ड्यूटी पर गई युवती के साथ ऑटो चालक समेत दो लोगों ने सामूहिक दुष्कर्म किया था। जिन्हें बाद में पुलिस ने कड़ी मशक्कत के बाद गिरफ्तार कर लिया।