कृषि कानूनों की तरह वापस लेनी होगी अग्निपथ योजना : हिंसा के बीच राहुल गांधी का भड़काऊ बयान

39
Agneepath scheme will have to be withdrawn like agricultural laws: Rahul Gandhi's provocative statement amid violence

नई दिल्ली : केंद्र सरकार की अग्निपथ योजना के विरोध में देशभर में हो रही हिंसा के बीच कांग्रेस नेता राहुल गांधी (Rahul Gandhi) की बहन और पार्टी महासचिव प्रियंका गांधी (Party General Secretary Priyanka Gandhi) ने भी प्रवेश कर लिया है।

उन्होंने पीएम मोदी से इस कानून को वापस लेने की मांग की है। वहीं राहुल गांधी ने कहा कि अग्निपथ योजना की स्थिति भी कृषि कानूनों की तरह होगी।

Agnipath Yojana

कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने शनिवार (18 जून 2022) को एक ट्वीट किया। इस ट्वीट में उन्होंने लिखा, ‘8 साल से लगातार बीजेपी सरकार ने ‘जय जवान, जय किसान’ के मूल्यों का अपमान किया है।

मैंने पहले भी कहा था कि प्रधानमंत्री को काला कृषि कानून वापस लेना होगा, उसी तरह उसे ‘माफीवीर’ बनकर देश के युवाओं की बात माननी होगी और ‘अग्निपथ’ को वापस लेना हि पडेगा।”

इस योजना को लेकर देशभर में चल रही हिंसा के बीच राहुल गांधी ने जंतर-मंतर पर धरना-प्रदर्शन का फैसला कर इस आग में घी डालने का काम किया है।

Journalist Of India

कांग्रेस ने घोषणा की है कि पार्टी अग्निपथ योजना के खिलाफ रविवार (19 जून, 2022) को दिल्ली के जंतर मंतर पर विरोध प्रदर्शन करेगी। इसमें कई बड़े नेताओं और सांसदों के शामिल होने की बात कही जा रही है।

प्रियंका गांधी ने कहा कि मोदी सरकार को इस योजना को तुरंत वापस लेना चाहिए। उन्होंने कहा कि विरोध को देखते हुए 24 घंटे भी नहीं बीते और सरकार को इसमें बदलाव करना पड़ा। इस बारे में उन्होंने ट्वीट किया है।

आपको बता दें कि इस योजना को लेकर देशभर में प्रदर्शन हो रहे हैं। वहीं राजनीतिक दलों पर भी युवाओं को आंदोलन के लिए उकसाने का आरोप लग रहा है।

वहीं कोचिंग माफिया का मामला सामने आ रहा है। विरोध के नाम पर देश विरोधी तत्व हिंसा का फायदा उठा रहे हैं। इस बीच, केंद्र सरकार ने केंद्रीय सशस्त्र बलों और असम राइफल्स में ‘आक्रामकों’ को 10% आरक्षण देने का फैसला किया है।

अग्निपथ स्कीम

इसके साथ ही इस बार उम्मीदवारों की आयु सीमा में भी छूट दी गई है। 23 साल तक के उम्मीदवार सेना में आवेदन कर सकते हैं। प्रथम बैच के लिए अधिकतम आयु सीमा में 5 वर्ष की छूट होगी।

Also Read