Business Credit Card योजना पर विचार, किसानों की तरह व्यवसायियों को भी कम ब्याज पर मिलेगा कर्ज

9
Business Credit Card

Business Credit Card | केंद्र सरकार छोटे व्यापारियों और दुकानदारों को उनके कारोबार के लिए बेहद कम ब्याज पर कर्ज देने की योजना शुरू करने पर विचार कर रही है।

सरकार किसान क्रेडिट कार्ड की तरह ही बिजनेस क्रेडिट कार्ड (Business Credit Card) योजना शुरू करने का इरादा रखती है। किसान क्रेडिट कार्ड (KCC) में सरकार किसानों को बेहद कम ब्याज पर 3 लाख रुपये तक का कर्ज देती है।

बिजनेस क्रेडिट कार्ड (Business Credit Card) के जरिए छोटे कारोबारियों को बिना कुछ गिरवी रखे सस्ते दरों पर आसानी से कर्ज मिल जाएगा। सरकार इसे जल्द ही राष्ट्रीय स्तर पर लॉन्च कर सकती है।

मनीकंट्रोल की एक रिपोर्ट के मुताबिक इस योजना को धरातल पर उतारने के लिए संसद की स्थायी समिति ने वित्त मंत्रालय (Finance Ministry) समेत कई बैंकों से बातचीत की है।

भारतीय लघु उद्योग विकास बैंक (SIDB) को इसकी नोडल एजेंसी की जिम्मेदारी सौंपी जा सकती है। सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार सरकार ने इस प्रस्ताव को स्वीकार कर लिया है और जल्द ही हरी झंडी भी दी जा सकती है.

1 लाख रुपये तक का लोन मिलेगा

सरकार की मंशा छोटे कारोबारियों और दुकानदारों को आसानी से और कम ब्याज पर कर्ज उपलब्ध कराना है। बिजनेस क्रेडिट कार्ड (Business Credit Card) के जरिए 50,000 रुपये से लेकर 1 लाख रुपये तक का कर्ज दिया जा सकता है।

बिजनेस क्रेडिट कार्ड (Business Credit Card) जारी होने से किराना दुकानदार और सैलून मालिक भी कर्ज ले सकेंगे। कमिटी ने सिफारिश की है कि बैंक तय करेंगे कि किसी उद्यमी या व्यवसायी को कितना कर्ज दिया जाए।

व्यापार क्रेडिट कार्ड (Business Credit Card) के माध्यम से छोटे व्यवसायियों को लॉयल्टी पॉइंट, रिवॉर्ड कैश बैक और अन्य लाभ भी दिए जा सकते हैं।

एमएसएमई पोर्टल पर पंजीकृत होना चाहिए

संसद की स्थायी समिति ने एमएसएमई मंत्रालय के पोर्टल पर पंजीकृत उद्यमियों को ही बिजनेस क्रेडिट कार्ड देने की सिफारिश की है। अभी भी लाखों उद्योग ऐसे हैं जो इस पोर्टल पर पंजीकृत नहीं हैं।

कोरोना महामारी के दौरान सबसे ज्यादा छोटे और मझोले कारोबारी प्रभावित हुए। इसलिए सरकार बिजनेस क्रेडिट कार्ड लॉन्च कर रही है, ताकि उनकी मदद की जा सके।