Crime News : कार मैकेनिक मुख्तार ने सीआरपीएफ जवान की पत्नी को फांसा, फिर गला घोंटकर की हत्या और नाले में फेंका शव

243
Car mechanic Mukhtar hanged the wife of CRPF jawan, then strangled her to death and threw the body in the drain

उत्तर प्रदेश के कानपुर जिले में सीआरपीएफ के एक जवान की पत्नी की गला दबाकर हत्या कर दी गई है। हत्या के बाद महिला के शव को नाले में फेंक दिया गया। पुलिस ने इस मामले में 3 आरोपियों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है।

घटना का मुख्य आरोपी मुख्तार है। घटना के पीछे का कारण अवैध संबंध बताया जा रहा है। मृतक का नाम गीता देवी है। घटना की सूचना पुलिस को 20 फरवरी (रविवार) को दी गई।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक मृतका के पति का नाम इंद्रपाल है। वह परिवार के साथ कानपुर के पनकी इलाके के रतनपुर कॉलोनी में रहता था। परिवार में उनकी 34 वर्षीय पत्नी गीता देवी दो बच्चों सुशांत और सिद्धार्थ के साथ रहती थीं।

सीआरपीएफ जवान इंदरपाल रविवार (20 फरवरी) को यूपी के मैनपुरी में चुनाव ड्यूटी पर थे। इस दौरान उसने पत्नी के मोबाइल पर कई कॉल किए लेकिन वहां से कोई जवाब नहीं आया।

इस बात की जानकारी इंद्रपाल ने पुलिस को दी। पुलिस ने मौके पर पहुंचकर चेक किया तो घर पर कोई नहीं मिला। घर के एक कमरे से बीयर के खाली डिब्बे, गिलास सहित कुछ अन्य सामान बरामद किया गया।

अगले दिन 21 फरवरी को ड्यूटी से लौटने के बाद इंद्रपाल ने अपनी पत्नी की गुमशुदगी की रिपोर्ट पुलिस में दर्ज कराई। जांच के दौरान पुलिस को गीता देवी की आखिरी बात कार रिपेयर करने वाले मुख्तार की खबर मिली।

पुलिस ने मुख्तार को हिरासत में लिया तो उसने गीता की हत्या करना कबूल कर लिया। मुख्तार ने पुलिस को जो सारी बात बताई वह कुछ इस तरह थी, ”शादी से पहले उसका गीता के साथ संबंध था। वह गीता के मायके रूरा जमालपुर का रहने वाला है। जवान इंद्रपाल जब भी ड्यूटी पर जाते थे तो मुख्तार अक्सर उनके घर आता था।

मुख्तार ने आगे कहा, ‘इस बीच गीता एक प्रॉपर्टी डीलर पुष्पेंद्र सिंह से बात करने लगी। वह गंगागंज का रहने वाला था। मुख्तार को गीता किसी और से बात करना पसंद नहीं था।

इसलिए वह घटना की शाम गीता को कार में बिठाकर ले गया। बाद में उसने गीता का गला घोंटकर हत्या कर दी। हत्या के बाद शव को कानपुर देहात के भाऊपुर मैथा के पास स्थित नाले में फेंक दिया गया. पुलिस ने शुक्रवार (25 फरवरी) को शव बरामद किया था।

पुलिस को गीता की कॉल डिटेल में प्रॉपर्टी डीलर पुष्पेंद्र का भी नंबर मिला। उसकी बात मुख़्तार से कुछ देर पहले हुई थी। पुलिस ने पुष्पेंद्र को भी हिरासत लिया है।

गीता के बेटों ने भी पुलिस से मुख़्तार और पुष्पेंद्र के बराबर घर आने की बात बताई। गीता के बेटों ने बताया कि उनकी माँ को साथ ले जाते समय मुख़्तार की कार में कुल 3 लोग सवार थे।