China’s Economy : क्या चीन की अर्थव्यवस्था चरमराने वाली है? बैंकों की रखवाली करने वाले टैंक कौन से संकेत हैं?

56
China's Economy: Is China's economy about to collapse? What signs are the tanks guarding the banks?

China’s Economy : चीन से अब जो खबर आ रही है, उससे पता चलता है कि चीन की अर्थव्यवस्था अब इस मुकाम पर पहुंच गई है कि यह कभी भी धराशायी हो सकती है।

चीन की बैंकिंग व्यवस्था की दयनीय स्थिति का अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि सरकार को हेनान प्रांत में बैंक ऑफ चाइना की शाखा की सुरक्षा के लिए सड़क पर टैंक तैनात करने पड़े हैं।

China's Economy: Is China's economy about to collapse? What signs are the tanks guarding the banks?

बैंक द्वारा लोगों को पैसे वापस करने से इनकार करने के बाद से पिछले कई हफ्तों से पुलिस और लोगों के बीच झड़प हो रही है।

इस साल अप्रैल में चीन के हेनान प्रांत के कई छोटे बैंक, जिनकी संयुक्त संपत्ति $6 बिलियन (40 बिलियन युआन) और लगभग 400,000 ग्राहक थे, दिवालिया हो गए।

चीन में लगभग 4,000 और छोटे और मध्यम आकार के बैंकों में कुप्रबंधन, भ्रष्टाचार, कमजोर विनियमन और खराब जोखिम प्रबंधन मौजूद हैं। इन बैंकों का हाल भी एक दिन हेनान प्रांत के बैंकों जैसा ही रहने वाला है।

रुका हुआ विकास

मनीकंट्रोल की एक रिपोर्ट के मुताबिक चीन में कर्ज पर आधारित विकास की रणनीति 2009 से लागू की जा रही है। इसी वजह से आज चीनी बैंकिंग प्रणाली कर्ज-जीडीपी अनुपात 264% पर बैठी है।

वास्तव में, विकास किसी भी ऋण-आधारित विकास का सबसे बड़ा कारक है जो पूरे चक्र को संचालित करता है। पिछले दो साल में कोविड के कारण चीन के विकास का पहिया धीमा पड़ा है।

इस साल की दूसरी तिमाही में चीन की अर्थव्यवस्था की विकास दर घटकर 0.4 फीसदी पर आ गई है। चीन की स्थानीय सरकारों की आय में इस साल 6 ट्रिलियन युआन की कमी होने का अनुमान है।

डूबता रियल एस्टेट सेक्टर

चीन से जो संकेत आ रहे हैं, वे बताते हैं कि चीन में सब कुछ ठीक नहीं चल रहा है। जून लगातार 10वां महीना है जब चीन में संपत्ति की कीमतों में गिरावट आई है।

निजी संपत्ति बाजार में 1990 के बाद से यह सबसे लंबी मंदी है। चीन की सबसे बड़ी रियल एस्टेट कंपनी एवरग्रांडे की हालत बेहद दयनीय है।

कंपनी पर 300 अरब डॉलर से अधिक की देनदारी है और उसने पहले ही कई बांड भुगतानों में चूक करना शुरू कर दिया है।

एवरग्रांडे के पास 1300 से ज्यादा प्रोजेक्ट हैं। कंपनी की कुल संपत्ति 2 ट्रिलियन युआन है, जो चीन की कुल जीडीपी का 2% है। एवरग्रैंड का यह हाल चीन की पूरी रियल एस्टेट इंडस्ट्री को डूबा रहा है।

चीन के सकल घरेलू उत्पाद में रियल एस्टेट क्षेत्र की हिस्सेदारी 12% है। इसलिए, अगर एवरग्रांडे दिवालिया हो जाता है, तो इसका प्रभाव पूरी चीनी अर्थव्यवस्था पर पड़ेगा।

कोयले की कमी से उत्पादन प्रभावित

चीन कोयले की भारी कमी का सामना कर रहा है। पर्याप्त बिजली नहीं होने से चीन के औद्योगिक क्षेत्रों में घंटों बिजली गुल हो रही है. इससे चीन का मैन्युफैक्चरिंग सेक्टर बुरी तरह प्रभावित हुआ है।

चीन दुनिया के कई देशों से अपने निर्माण के लिए कच्चा माल लेता है और अगर चीनी उद्योग उत्पादन में कटौती करते हैं तो यह पूरी दुनिया की आपूर्ति श्रृंखला को प्रभावित करेगा।

लेकिन, साथ ही विनिर्माण क्षेत्र में मंदी चीन में रोजगार से लेकर कई अन्य संकट पैदा करेगी, जो उसके आर्थिक स्वास्थ्य के लिए बहुत घातक होगा।