कोरोना वैक्सीन CoWIN ऐप पर करना होगा रजिस्ट्रेशन | यहां जानें पूरा प्रोसेस

0
57

नई दिल्‍ली : साल 2021 में कोरोना महामारी (Coronavirus) से निजात पाने के लिए वैक्सीन पर काम तेजी से किया जा रहा है।

भारत के सभी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों में शनिवार से कोरोना वैक्सीन का ड्राई रन (Corona vaccine dry Run) शुरू हो चुका है। 

इसी बीच केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने कोविड-19 वैक्सीन वितरण की निगरानी, डाटा रखने और लोगों को वैक्सीन लगवाने के लिए पंजीकृत करवाने के लिए कोविन (Co-WIN App) नाम से एक ऐप बनाया है।

देश के नागरिक जो हेल्थ वर्कर्स नहीं हैं उन्हें कोवैक्सीन के लिए CoWIN ऐप को गूगल प्ले स्टोर या ऐपल ऐप स्टोर से डाउनलोड करना होगा।

ऐप को डाउनलोड करने के बाद पंजीकरण मॉड्यूल के जरिए लोग कोरोना वैक्सीन के लिए रजिस्ट्रेशन करवा सकेंगे। 

कोविन ऐप में हैं 5 मॉड्यूल

कोविन ऐप (Co-WIN App) से टीकाकरण की प्रक्रिया, प्रशासनिक क्रियाकलापों, टीकाकरण कर्मियों और उन लोगों के लिए एक मंच की तरह काम करेगा, जिन्हें वैक्सीन लगाई जानी है. कोविन ऐप में 5 मॉड्यूल हैं।

पहला प्रशासनिक मॉड्यूल, दूसरा रजिस्ट्रेशन मॉड्यूल, तीसरा वैक्सीनेशन मॉड्यूल, चौथा लाभान्वित स्वीकृति मॉड्यूल और पांचवां रिपोर्ट मॉड्यूल।

तीन करोड़ हेल्थ वर्कर्स और फ्रंटलाइन वर्कर्स को फ्री वैक्सीन

स्वास्थ्य मंत्री डॉ हर्षवर्धन ने अब सिर्फ देश के तीन करोड़ हेल्थ वर्कर्स और फ्रंटलाइन वर्कर्स को फ्री वैक्सीन दिए जाने की बात कही है।

उन्होंने कहा, “फ्री वैक्सीन सिर्फ उन्हीं लोगों को दी जाएगी जो हेल्थ वर्कर और फ्रंटलाइन वर्कर हैं। ऐसे लोगों की संख्या करीब तीन करोड़, बाकी के लोगों को वैक्सीन कैसे लगेगी इस पर जुलाई तक फैसला होगा। ”

कोरोना वैक्सीन के इस्तेमाल को लेकर फैलाई जा रही अफवाहों पर केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ हर्षवर्धन ने कहा, ‘देश के लोगों को मेरी अपील है कि वो किसी भी अफवाह में न जाएं।

भारत की सरकार देश के लोगों को कोविड-19 से सुरक्षित रखना चाहती है, वैक्सीन का विकास उसी प्रक्रिया का हिस्सा है। ‘

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here