Crime News : प्रेम प्रसंग में कोचिंग संचालक की निर्मम हत्या, शव रेलवे ट्रैक के पास फेंका

158
crime news : Brother-in-law absconded after killing sister-in-law, stabbed to death with an ax

Crime News : बिहार के गया जिले के परैया थाना क्षेत्र में एक कोचिंग संचालक की हत्या कर शव को रेलवे ट्रैक पर फेंक दिया गया।

जिससे आक्रोशित लोगों ने रविवार को युवक के शव को सड़क पर रख कर प्रदर्शन किया। मौके पर पहुंची पुलिस ने लोगों को समझा-बुझाकर समझाइश दी।

रात में प्रेमिका के परिजनों ने दी थी धमकी

रविवार सुबह कोचिंग संचालक की हत्या की सूचना से सनसनी फैल गई। जिसके बाद पुलिस अधिकारी और सुरक्षा बल घटना स्थल पर डेरा डाले हुए हैं।

ग्रामीणों के अनुसार युवक प्राणपुर निवासी दिनेश प्रसाद के बीच पुत्र छोटू कुमार की उम्र 20 वर्ष है. शनिवार को कोसडिहारा टोला सेवरी नगर में युवाओं द्वारा सरस्वती पूजा का आयोजन किया गया।

जिसमें कोसडीहरा निवासी युवती के परिजनों ने प्रेम प्रसंग को लेकर युवक की पिटाई कर दी। साथ ही जान से मारने और ट्रैक पर फेंकने की धमकी भी दी। मौके पर मौजूद लोगों ने तुरंत मामला शांत कराया और दोनों पक्षों को अलग कर दिया।

रेलवे ट्रैक पर खून से लथपथ मिला युवक का शव

रात में युवक अपने दोस्तों के साथ कोचिंग में सो गया। रात करीब बारह बजे युवक का दोस्त जब उठा तो वहां न मिलने पर उसने तलाश शुरू कर दी। आसपास न मिलने पर सभी उसकी तलाश में रेलवे ट्रैक की ओर चल दिए।

जहां खून से लथपथ युवक ट्रैक के किनारे मृत अवस्था में पड़ा हुआ था. जिसके बाद आक्रोशित लोगों ने शव को सोलरा में प्रेमिका के घर के सामने रख कर विरोध करना शुरू कर दिया।

साथ ही सड़क जाम कर मुआवजे की मांग को लेकर धरना दिया। सूचना पर मौके पर पहुंचे टिकारी एसडीपीओ गुलशन कुमार के नेतृत्व में सोलरा के पूर्व प्रधान संतू सिंह की पहल पर जाम हटाया गया।

संतू सिंह ने पीड़ित परिवार को दाह संस्कार के लिए 5000 रुपये दिए। राजद जिला उपाध्यक्ष संजीव यादव और जदयू नेता राजेश कुमार ने घटना की कड़ी निंदा की।

वहीं, अधिकारी की ओर से मुआवजे की बात कही गई। पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया।

मामले में अब तक लिखित शिकायत नहीं मिली है। शिकायत के आधार पर प्राथमिकी दर्ज कर आगे की कार्रवाई की जाएगी। पोस्टमार्टम रिपोर्ट से भी अहम खुलासा हो सकता है। पुलिस इस मामले की हर बिंदु की गहन जांच कर रही है। -गुलशन कुमार, एसडीपीओ टिकारी