Crime News : सेक्स बदलकर आयुष्मान से बनी जोया, कांच से गोंदकर की गई हत्या

173
crime news : Brother-in-law absconded after killing sister-in-law, stabbed to death with an ax

लखनऊ: लड़के से लड़की बनी जोया की मड़ियांव स्थित उसके घर में शीशे से हत्या कर दी गई। उसके कथित प्रेमी पर हत्या का शक गहराता जा रहा है।

पुलिस को मौके से हत्या में प्रयुक्त शीशा और कुछ आपत्तिजनक सामग्री मिली है। उसे जांच के लिए फॉरेंसिक लैब भेजा गया है।

मौके से मिले सबूतों के आधार पर पुलिस आरोपी तक पहुंचने की कोशिश कर रही है। जोया के प्रेमी सआदतगंज निवासी फैजान के खिलाफ मड़ियांव थाने में हत्या का मामला दर्ज किया गया है।

कमरे को बाहर से बंद देख किसी अप्रिय घटना की आशंका

पुलिस के मुताबिक जोया मड़ियांव के पलटन छावनी निवासी नेमचंद्र यादव के घर में पिछले ढाई महीने से कथित प्रेमी फैजान के साथ रह रही थी।

बुधवार दोपहर तालकटोरा के राजाजीपुरम निवासी जोया के पिता संजीव कुमार सिंह दो दिन तक फोन नहीं मिलने पर मड़ियांव पहुंचे।

जोया के कमरे में बाहर से ताला लगा देख उसने कुछ अनहोनी की आशंका पर ताला तोड़ने की कोशिश की. यह देख मालिक ने चाबी बनाने वाले को बुलाया और ताला खुलवाया।

जोया की खून से लथपथ लाश कमरे में बेड पर पड़ी थी। उसी समय खून से लथपथ कांच का एक टुकड़ा पास में पड़ा हुआ था।

हत्यारे ने जोया के सिर के पिछले हिस्से में चाकू मारकर हत्या कर दी थी। अंदर की हालत देखकर पिता ने पुलिस को सूचना दी।

पुलिस ने मौके पर फोरेंसिक टीम को बुलाकर जांच की, जिसके बाद शव को पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया गया।

आपत्तिजनक सामग्री और शराब की बोतलें मिलीं

जांच के दौरान पुलिस को कमरे से शराब की सैकड़ों खाली बोतलें और आपत्तिजनक सामग्री भी मिली। बिस्तर के पास रखी शराब की खाली बोतल का ढक्कन खुला मिला।

आशंका है कि प्रेमी फैजान और जोया ने पहले शराब पी थी, जिसके बाद दोनों के बीच लड़ाई हो गई। गुस्से में आकर फैजान ने उसकी हत्या कर दी।

जोया के हाथ की नस काटने की भी कोशिश की गई। शव से दुर्गंध आने का अनुमान लगाया जा रहा है कि सोमवार को ही उसकी हत्या की गई है।

कमरा पति-पत्नी के रूप में लिया गया था

मकान मालिक के मुताबिक जोया ने केशवनगर के एक होटल में डिनर करते वक्त मालिक से किराए पर कमरा लेने की बात मालिक को बताई थी।

होटल मालिक के कहने पर नेमचंद्र ने जोया को कमरा किराए पर दे दिया। मकान मालिक के मुताबिक जोया और फैजान उनके पास पति-पत्नी बनकर आए थे।

दिल्ली में ऑपरेशन कराने के बाद लडकी बना

संजीव सिंह के मुताबिक उनके बेटे को दो साल पहले तक आयुष्मान सिंह के नाम से जाना जाता था। आयुष्मान ने हाई स्कूल तक अंग्रेजी माध्यम से पढ़ाई की।

हर समय मोबाइल फोन पर रहता था। मोबाइल पर वीडियो देखने के बाद आयुष्मान सिंह ने दो साल पहले लड़की बनने की इच्छा जताई थी।

काफी समझाने के बाद भी जब वह नहीं माना तो संजीव ने तालकटोरा पुलिस के पास जाकर शिकायत की। आरोप है कि इस मामले में पुलिस ने उसकी मदद नहीं की।

इसके बाद आयुष्मान दिल्ली चले गए, जहां उन्होंने 70 हजार रुपये देकर सेक्स चेंज करवाया और जोया बन गईं। जोया बनने के बाद उन्होंने घरवालों से नाता तोड़ लिया था।

दो समूहों ने इनकार किया

जांच में पुलिस को पता चला कि जोया एक ट्रांसजेंडर थी। सच्चाई जानने के लिए किन्नरों के दो गुटों से बात की गई। दोनों समूहों ने जोया को पहचानने से इनकार कर दिया।

सआदतगंज स्थित घर पर छापेमारी में एसीपी अलीगंज सैयद अली अब्बास फैजान नहीं मिले। सर्विलांस की मदद से उसकी लोकेशन कानपुर में मिल गई है।

गिरफ्तारी के बाद ही हत्या की सच्चाई का पता चलेगा। एडीसीपी उत्तर प्राची सिंह का कहना है कि मामला दर्ज किया जा रहा है और फैजान की तलाश की जा रही है।