बेटी बोली : परेशान कर रही पुलिस, आरोप बेबुनियाद, हिरासत में प्रयागराज हिंसा का मास्टरमाइंड जावेद

59
Daughter said: Police is troubling, allegations baseless, Javed, the mastermind of Prayagraj violence in custody

पुलिस ने प्रयागराज हिंसा के मास्टरमाइंड जावेद अहमद उर्फ ​​पंप, उसकी पत्नी और छोटी बेटी को हिरासत में लेकर पूछताछ शुरू कर दी है. आरोपी के मोबाइल से कई अहम सबूत मिले हैं।

वहीं, आरोपी आफरीन की बड़ी बेटी जेएनयू की छात्रा है। उन्होंने मिडिया से बातचीत में बताया कि उनके पिता और परिवार के सदस्यों को पुलिस बिना वारंट के ले गई थी। पुलिस ने कई आरोप लगाए हैं।

आफरीन ने सभी आरोपों को बेबुनियाद बताया है। आप हमारे सोशल मीडिया अकाउंट चेक कर सकते हैं। इसमें आपको ऐसा कुछ नहीं मिलेगा।

 आफरीन

एसएसपी के मुताबिक हिंसा में जावेद अहमद की बेटी भी शामिल है। पुलिस ने 68 लोगों को हिरासत में लिया है। वहीं, 5000 अज्ञात लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है।

शनिवार को प्रयागराज विकास प्राधिकरण के अधिकारी 100 साल पुराना नक्शा लेकर अटाला पहुंचे। यहां 37 बदमाशों के घरों को चिह्नित किया गया।

उनके खिलाफ तोड़फोड़ की कार्रवाई की जाएगी। इन घरों की मैपिंग की जा रही है, इनके खिलाफ मैपिंग कर कार्रवाई की जा रही है।

वेलफेयर पार्टी ने 2022 के चुनाव में सपा को समर्थन दिया था।

वेलफेयर पार्टी ऑफ इंडिया के राष्ट्रीय अध्यक्ष डॉ. क्यूआर इलियास ने 2022 के चुनाव में अखिलेश यादव का समर्थन किया था।

उन्होंने कहा था कि लोग बीजेपी की बुराइयों से तंग आ चुके हैं। समाजवादी सरकार कानून का शासन बहाल करेगी।

मुसलमानों के अधिकारों के लिए लड़ने के लिए जाना जाता है

आफरीन फातिमा जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय (JNU) की रिसर्च स्कॉलर हैं। इसके अलावा वह जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय छात्र संघ की काउंसलर भी हैं।

बेटी आफरीन और जावेद

इससे पहले वह अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय के महिला कॉलेज की अध्यक्ष भी रह चुकी हैं। उन्होंने जेएनयू से ही भाषाविज्ञान में एमए किया है।

आफरीन ने अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय से भाषाविज्ञान में बीए ऑनर्स किया है, आफरीन ने प्रयागराज के प्रतिष्ठित सेंट मैरी कॉन्वेंट से हाई स्कूल और इंटरमीडिएट किया है।

उनके फेसबुक पेज को 24506 लोग फॉलो करते हैं। फातिमा ने सीएए, एनपीआर और एनआरसी प्रोटेस्ट में सक्रिय रूप से भाग लिया।

आरोपी जावेद मोहम्मद ऑफ इंडिया का प्रदेश महासचिव हैं।

धारा प्रवाह अंग्रेजी बोलने वाली आफरीन फातिमा भी छात्र आंदोलनों में अग्रणी रही हैं। आफरीन को मुसलमानों के अधिकारों और अधिकारों के लिए लड़ने के लिए जाना जाता है।