Fact Check : इस्लाम छोड़कर हिंदू धर्म अपनाने वाले जितेंद्र नारायण सिंह त्यागी के नाम से वायरल हो रहा यह ट्वीट फेक है

217
Fact Check: This tweet going viral in the name of Jitendra Narayan Singh Tyagi, who left Islam and converted to Hinduism, is fake.

Fact Check : इस्लाम छोड़कर हाल ही में हिंदू धर्म अपनाने वाले जितेंद्र नारायण सिंह त्यागी के नाम से एक ट्वीट का स्क्रीनशॉट वायरल हो रहा हैदावा किया जा रहा है कि सनातन धर्म की तारीफ में यह ट्वीट जितेंद्र नारायण सिंह त्यागी (पूर्व में वसीम रिजवी) ने किया है।

journalistofindia.com पड़ताल में यह दावा झूठा निकला। इस्लाम छोड़कर हिंदू धर्म अपना चुके जितेंद्र नारायण सिंह त्यागी लगातार हिंदू धर्म की तारीफ करते रहे हैं, लेकिन उनके नाम से वायरल हो रहा यह ट्वीट फर्जी है।

जितेंद्र नारायण सिंह त्यागी ट्विटर पर मौजूद नहीं हैं। अपनी पड़ताल में हमने पाया कि जितेंद्र नारायण सिंह त्यागी के नाम से ट्विटर पर कई फर्जी प्रोफाइल सक्रिय हैं। सोशल मीडिया पर वह सिर्फ फेसबुक पर ‘Jitendra Narayan Singh Tyagi’ के नाम से मौजूद हैं।

vishvasnews

क्या हो रहा वायरल?

फेसबुक यूजर ‘‎Abhay Thakur Rajawat‎’ ने वायरल ट्वीट के स्क्रीनशॉट को शेयर किया है। इस ट्वीट के स्क्रीनशॉट में जितेंद्र नारायण त्यागी का प्रोफाइल नाम लिखा हुआ नजर आ रहा है।

एक अन्य फेसबुक यूजर ने भी ट्वीट के इस स्क्रीनशॉट को शेयर किया है।

पड़ताल

वायरल ट्वीट के सभी स्क्रीनशॉट में रीट्वीट और लाइक्स की संख्या समान है, जो इसकी प्रामाणिकता पर संदेह पैदा करती है। वायरल स्क्रीनशॉट में ट्विटर हैंडल ‘NarayanTyagi_1’ लिखा हुआ नजर आ रहा है। सर्च में हमें ट्विटर पर ऐसी कोई प्रोफाइल नहीं मिली, बल्कि यह प्रोफाइल अब ट्विटर पर मौजूद ही नहीं है।

vishvasnews

 

सर्च में हमें वसीम रिजवी के नाम से एक और पुराना ट्विटर हैंडल मिला, लेकिन इसे भी ट्विटर नियमों का उल्लंघन करने के मामले में सस्पेंड किया जा चुका है। यह ट्विटर हैंडल @imWasimRizwi के नाम से सक्रिय था।

vishvasnews

एक रिपोर्ट में हमें ‘@WasimRizvi_IND’ के नाम के ट्विटर हैंडल का जिक्र मिला, जिसे वसीम रिजवी (अब जितेंद्र नारायण सिंह त्यागी) का बताया गया है। सर्च में ट्विटर पर हमें ऐसी कोई प्रोफाइल नहीं मिली।

साफ है कि वायरल हो रहा ट्वीट जितेंद्र नारायण सिंह त्यागी के नाम से एक फेक हैंडल से किया गया था, जिसे अब डिलीट कर दिया गया है।

इसके बाद हमने जितेंद्र नारायण सिंह त्यागी से संपर्क किया। उन्होंने कहा, ‘वायरल हो रहा ट्वीट उनका नहीं है और न ही उन्होंने ऐसा कोई ट्वीट किया है। वह ट्विटर पर भी मौजूद नहीं हैं। जब मैं शिया वक्फ बोर्ड का अध्यक्ष था तब मैंने एक प्रोफाइल बनाया था, लेकिन वह प्रोफाइल भी अब निष्क्रिय है।

उन्होंने कहा, “इस तरह की फर्जी प्रोफाइल बनाने का मकसद मेरे खिलाफ झूठा प्रचार करना है और मैं जल्द ही इसके बारे में शिकायत दर्ज कराने जा रहा हूं।”

यह पूछे जाने पर कि क्या वह किसी अन्य सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर मौजूद हैं, उन्होंने कहा, ‘मैं केवल (Jitendra Narayan Singh Tyagi) नाम से फेसबुक पर मौजूद हूं। समय की कमी के कारण मैं किसी अन्य सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर मौजूद नहीं हूं।

यह फेसबुक प्रोफाइल सक्रिय प्रोफाइल है और इससे लगातार पोस्ट को शेयर किया जाता रहा है।

vishvasnews

 

वायरल स्क्रीनशॉट को शेयर करने वाले यूजर की प्रोफाइल फेसबुक पर मई 2021 से सक्रिय है।