How is the purity of gold recognized? कैसे पहचानी जाती है सोने की शुद्धता?

40
How is the purity of gold recognized? How is the purity of gold recognized?

Gold-Silver Purity Parameters: दिवाली के आसपास सोने की मांग क्यों बढ़ जाती है और सोना महंगा क्यों हो जाता है? आइए जानते हैं इस रिपोर्ट से, लेकिन उससे पहले सोनी की सटीकता के बारे में कुछ बातें जान लेते हैं।

कैसे पहचानी जाती है सोने की शुद्धता? कैसे पहचानी जाती है सोने की शुद्धता?

यह मापने का एक तरीका है कि गहने शुद्ध हैं या नहीं। आभूषणों की शुद्धता को हॉलमार्क के निशान से पहचाना जा सकता है। इसका पैमाना एक कैरेट से लेकर 24 कैरेट तक होता है। अब सवाल यह उठता है कि कैरेट क्या है?

कैरेट का उपयोग किसी भी सोने के आभूषण की शुद्धता को मापने के लिए किया जाता है। 22 कैरेट सोने का उपयोग आभूषण बनाने के लिए किया जाता है। इसमें 916 लिखा होगा। 24 कैरेट सोना शुद्ध सोना माना जाता है। उस पर 999 लिखा होगा।

21 कैरेट की जूलरी पर 875 लिखा होगा। 18 कैरेट की जूलरी पर 750 लिखा होता है। अगर 14 कैरेट की ज्वैलरी होगी तो उसमें 585 लिखा होगा।

24 और 18 कैरेट में क्या अंतर है? 24, 22, 21, 18 और 14 कैरेट में क्या अंतर है?

22 कैरेट सोने में 91.67 फीसदी शुद्ध सोना होता है, बाकी 8.33 फीसदी में अन्य धातुएं होती हैं। वहीं, 21 कैरेट सोने में 87.5 फीसदी शुद्ध सोना होता है। 18 कैरेट में 75 प्रतिशत शुद्ध सोना होता है और 14 कैरेट सोने में 58.5 प्रतिशत शुद्ध सोना होता है।

दिवाली के आसपास सोने की मांग क्यों बढ़ जाती है और सोना महंगा क्यों हो जाता है? दशहरे से पहले क्यों महंगा हो जाता है सोना?

त्योहारी सीजन के चलते यह मांग और बढ़ जाती है। साथ ही भारत में कोरोना संक्रमण की दर में कमी के चलते दुकान और शोरूम में जाने से सोने की खरीदारी में भी तेजी आने की उम्मीद है।

आज सोने की कीमत क्या है? आज सोने की कीमत क्या है?

आज 3 अक्टूबर की सुबह सोने और चांदी दोनों की कीमतों में तेजी आई है. 999 शुद्धता वाला दस ग्राम सोना बढ़कर 50391 रुपये हो गया है, जबकि 999 शुद्धता वाले एक किलो चांदी का भाव बढ़कर 57268 रुपये प्रति किलो हो गया है.