International Yoga Day 2022 : कब और कैसे शुरू हुआ योग दिवस, जानिए क्या है इस बार की थीम

9
International Yoga Day 2022

International Yoga Day 2022: 21 जून को पूरे विश्व में अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस मनाया जाता है। योग तन और मन को स्वस्थ रखता है, जिससे मन को शांति मिलती है। योग का शाब्दिक अर्थ जोड़ है।

जिसका अर्थ है आत्मा को परमात्मा से जोड़ना। योग भारतीय संस्कृति का अभिन्न अंग रहा है। धीरे-धीरे यह भारत के रास्ते दुनिया के कई देशों में पहुंच चुका है।

योग का महत्व | Significance of Yoga

‘योग’ शब्द संस्कृत के दो शब्दों ‘युज’ और ‘युजिर’ से बना है, जिसका अर्थ है एक साथ आना। इसके अलावा योग का अर्थ जोड़ भी है, जिसमें योग आत्मा, मन और शरीर का मिलन है।

योग हमें मानसिक तनाव से मुक्ति दिलाता है। इसके अलावा मांसपेशियां भी मजबूत होती हैं। शहर का संतुलन बनाए रखने के साथ-साथ सहनशीलता भी बढ़ती है।

आजकल बदलती लाइफस्टाइल की वजह से फिजिकल एक्टिविटी काफी कम हो गई है। ऐसे में लोग कम उम्र में ही गंभीर बीमारियों की चपेट में आ रहे हैं। योग से हम अपने शरीर को स्वस्थ रख सकते हैं।

योग दिवस की शुरुआत कब हुई | When did yoga day begin

भारत के प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी ने 27 सितंबर 2014 को संयुक्त राष्ट्र महासभा में पूरी दुनिया को योग दिवस मनाने के लिए कहा।

पीएम मोदी के प्रस्ताव को संयुक्त राष्ट्र महासभा ने स्वीकार कर लिया और उसके बाद 11 दिसंबर 2014 को UNGA ने आधिकारिक तौर पर घोषणा की।

21 जून ‘अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस’ के रूप में। इसके बाद अगले साल यानी 2015 से अंतरराष्ट्रीय योग दिवस मनाया जाने लगा।

क्या है इस बार योग दिवस की थीम | International Yoga Day 2022 Theme

2022 में  (International Yoga Day 2022 Theme) अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस 2022 का विषय (Yoga For Humanity) ‘मानवता के लिए योग’ है। इसी थीम के साथ इस बार पूरी दुनिया में योग दिवस मनाया जाएगा।

वैश्विक महामारी (COVID-19) के दौरान योग की महत्वपूर्ण भूमिका को दिखाने के लिए इस विषय को विशेष रूप से चुना गया है।