लव जिहाद पर मायावती ने की पुनर्विचार की अपील | लालजी निर्मल ने पूछा- आप किसके साथ हैं?

0
65

मायावती जी, क्या आपको पता है कि लव जिहाद से सबसे ज्यादा दलित, पिछड़े और अति पिछड़ी जातियां शिकार हुई हैं।

लखनऊ : उत्तर प्रदेश में धर्मांतरण प्रतिषेध अध्यादेश को लेकर सियासी पारा चढ़ने लगा है। बीएसपी सुप्रीमो मायावती ने योगी सरकार से पुनर्विचार की अपील की है। 

वहीं उत्तर प्रदेश में राज्यमंत्री का दर्जा प्राप्त और यूपी अनुसूचित जाति वित्त एवं विकास निगम के चैयरमैन डॉक्टर लालजी प्रसाद निर्मल ने सुप्रीमो मायावती पर निशाना साधा है।

एक के बाद सिलसिलेवार ट्विट्स में लालजी ने मायावती पर सवालों की बौछार करते हुए कहा, ‘मायावती जी, क्या आपको पता है कि लव जिहाद से सबसे ज्यादा दलित, पिछड़े और अति पिछड़ी जातियां शिकार हुई हैं।

क्या इन जातियों का भी सम्मान से जीने का हक नहीं है? लव जिहाद में फंस कर सबसे ज्यादा दलित ,पीड़ित और अति पिछड़ी जाति के लोगों ने न सिर्फ अपना मूल धर्म गंवाया बल्कि उनका अस्तित्व भी संकट में है। इन लोगों को सुरक्षा प्रदान करना क्या गुनाह है?’

उन्होंने बीएसपी सुप्रीमो से सवाल करते हुए कहा, ‘मायावती जी, देखा गया है कि लव जिहाद के अधिकतर मामलों में शिकार दलित और पिछड़ी जातियों की लड़कियां हुई हैं, ऐसा समाज जिसका आप खुद को मसीहा समझती हैं।

इन्हें सुरक्षित माहौल प्रदान करना और उनकी पहचान को बचाना कैसे गलत हो सकता है। आप इन दलित बेटियों के हक की बात करने के बजाए किसका साथ दे रही हैं?’

मायावती ने ट्वीट किया, ‘लव जिहाद को लेकर उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा आपाधापी में लाया गया धर्म परिवर्तन अध्यादेश अनेक आशंकाओं से भरा है।

जबकि देश में कहीं भी जबरन और छल से धर्मांतरण को ना तो खास मान्यता और ना ही स्वीकार्यता है।’ उन्होंने आगे कहा, ‘इस संबंध में कई कानून पहले से ही प्रभावी हैं। सरकार इस पर पुनर्विचार करे, बीएसपी की यह मांग है।’

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here