प्यार का दर्दनाक अंत : पहले पूरी की दिल की मुराद, फिर प्रेमी जोड़े ने फांसी लगाकर दे दी जान

57
The painful end of love: first the wishes of the heart were fulfilled, then the loving couple hanged

कानपुर : जिले में जब एक प्रेमी-युगल का प्रेम पनप नहीं पाया तो उन्होंने अपने मन की मुराद पूरी कर दी। प्रेमी ने प्रेमिका कि मांग में सिंदूर और हातो में लाल Slot Gacor Gampang Menang डाल दी और फिर फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। पेड़ पर लटके शवों को देख गांव में सनसनी फैल गई।

रसूलाबाद के तरण पुरवा में घरवालों की शादी नहीं मानने और प्रेम प्रसंग का विरोध करने पर युवक और युवती ने दुपट्टे को पेड़ पर लटकाकर आत्महत्या कर ली।

शनिवार की सुबह बिना उनके घरों में मिले उनकी तलाश शुरू की गई तो दंपति का शव गांव के बाहर बगीचे में मिला। पुलिस और फोरेंसिक टीम मौके पर जांच कर रही है।

Crime News : शादी की पहली रात ही खुल गई दुल्हन की पोल, पति सीधे डॉक्टर के पास पहुंचा

तरनपुरवा निवासी खुशी लाल की 20 वर्षीय पुत्री हुलसी देवी और मोहल्ले के सिपाही लाल के दिव्यांग पुत्र विनोद कुमार आपस में प्रेम करते थे।

इस बात की जानकारी घरवालों को थी, लेकिन सजातीय होने के बाद भी परिजन उनकी शादी के लिए तैयार नहीं हो रहे थे।

शुक्रवार की देर रात दोनों घर से निकले और गांव से बाहर जाने के बाद दोनों ने दो दुपट्टे जोड़कर फंदा बनाया और उसी से फांसी लगा ली।

इधर सुबह दोनों परिजनों ने उन्हें लापता देखा तो तलाश शुरू हुई। ग्रामीण भी जमा हो गए और शव गांव के बाहर मिला। इससे विनोद की मां मौलश्री, पिता सिपाही लाल, भाई गोविंद, बहन राधा और हुलसी की मां तेजवती, पिता खुशलाल और भाई धीरज का रोकर बुरा हाल हो गया।

थाना प्रभारी रसूलाबाद अंजनी कुमार मिश्रा पहुंचे और परिजनों से जानकारी ली। फोरेंसिक टीम ने साक्ष्य जुटाए। थाना प्रभारी ने बताया कि प्रेमी युगल ने परिवार के विरोध के चलते आत्महत्या कर ली है।