सोनिया गांधी ने पार्टी नेताओं से कहा : पार्टी ने आपको बहुत कुछ दिया है, अब समय है कर्ज चुकाने का !

51
Sonia Gandhi told party leaders, the party has given you a lot, now is the time to repay the loan

उदयपुर । कांग्रेस चिंतन शिविर : कमजोर होती कांग्रेस में ऊर्जा भरने के लिए शुक्रवार से उदयपुर में तीन दिवसीय कांग्रेस चिंतन शिविर शुरू हो गया। कांग्रेस चिंतन शिविर की शुरुआत कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी (Congress President Sonia Gandhi) के भाषण से हुई।

सोनिया गांधी ने अपने भाषण की शुरुआत अंग्रेजी में की और प्रधानमंत्री पर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि भाजपा और आरएसएस की जनविरोधी नीतियों पर चर्चा करने का अवसर है।

यह हमारे लिए पार्टी संगठन की कमजोरी पर भी चर्चा करने का एक अवसर है। अब बड़े दुख कि बात है कि पीएम और उनके सहयोगी ध्रुवीकरण पर निर्भर हैं।

उदयपुर में तीन दिवसीय कांग्रेस चिंतन शिविर के स्वागत भाषण में कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने कहा, पार्टी ने हमें बहुत कुछ दिया है, अब कर्ज चुकाने का समय है।

सोनिया ने कांग्रेस नेताओं को त्याग कर पार्टी के हित में काम करने की सलाह दी है। आज कांग्रेस कार्यसमिति के शब्दों को खुलेआम दोहराया गया है।

हमें संगठन के हित में काम करना है

Congress President Sonia Gandhi ने कहा, अब समय आ गया है कि हमें संगठन के हित में काम करना है। सबसे आग्रह है अपने विचार खुलकर व्यक्त करें, लेकिन संगठन की ताकत, दृढ़ निश्चय और एकता से केवल एक ही संदेश जाना चाहिए।

सोनिया गांधी ने कहा, हमें मिली असफलताओं से हम बेखबर नहीं हैं। न ही हम उन संघर्षों और कठिनाइयों से बेखबर हैं जिनका हमें सामना करना पड़ता है। हम लोगों की अपेक्षाओं से अनभिज्ञ नहीं हैं।

हम इस संकल्प को लेने के लिए एकत्र हुए हैं, हम अपनी पार्टी को देश की राजनीति में उसी भूमिका में लाएंगे जो उसने हमेशा निभाई है, इस बिगड़ते समय में देश के लोगों द्वारा अपेक्षित भूमिका निभाई है।

हम आत्मनिरीक्षण कर रहे हैं। तय करें कि अगर आप यहां से चले गए तो आप एक नए आत्मविश्वास और प्रतिबद्धता से प्रेरित होकर जाएंगे।

आगे सोनिया गांधी ने कहा, आज पार्टी के सामने असाधारण हालात हैं। असाधारण परिस्थितियों से असाधारण तरीके से ही निपटा जा सकता है। जीवित रहने और बढ़ने के लिए प्रत्येक संगठन को खुद को तेज करना होगा।

हमें सुधारों की सख्त जरूरत है। सामरिक बदलाव, ढांचागत सुधार और हमारे दिन-प्रतिदिन के काम करने के तरीके में बदलाव सबसे बुनियादी मुद्दे हैं जिनकी हमें जरूरत है।

सामूहिक प्रयासों से ही हमारा उत्थान संभव होगा। इन प्रयासों को अब और टाला नहीं जा सकता। न तो आगे बढ़ सकते हैं और न ही टाला जा सकता है, यह एक कारगर कदम होगा। उन्होंने बीजेपी और केंद्र सरकार पर बड़ा हमला बोला है।

केंद्र सरकार देश में भय और असुरक्षा का माहौल बना रही है

गांधी ने कहा, बीजेपी-केंद्र सरकार देश में भय और असुरक्षा का माहौल बना रही है। अल्पसंख्यकों को धमकाया जा रहा है। धर्म के नाम पर ध्रुवीकरण किया जा रहा है।

हमारे देश में अल्पसंख्यक समान नागरिक हैं। यह हमारी पुरानी बहुलवादी संस्कृति का प्रतिबिंब है। अनेकता में एकता में हमें पहचान मिली है।

सोनिया ने कहा, आज राजनीतिक विरोधियों को निशाना बनाया जा रहा है, जांच एजेंसियों का गलत इस्तेमाल हो रहा है। इतिहास को फिर से लिखने का प्रयास किया जा रहा है।

जिसमें देश के लिए पंडित नेहरू के योगदान और बलिदान को व्यवस्थित रूप से कम करने का प्रयास किया जा रहा है। ये लोग महात्मा गांधी के हत्यारे का महिमामंडन कर रहे हैं और गांधी के सिद्धांतों को नष्ट कर रहे हैं।

उन्होंने कहा, देश के पुराने मूल्यों को नष्ट किया जा रहा है। दलित आदिवासियों और महिलाओं में असुरक्षा का माहौल है। देश में डर का माहौल बनाया जा रहा है। बीजेपी लगातार देश में लोगों को लड़ाने की कोशिश कर रही है।

TRENDING NEWS TODAY