खराब रिपोर्ट के बावजूद, भारत सहित दुनिया भर के लोग क्रिप्टोकरेंसी में भारी निवेश क्यों कर रहे हैं?

275
using crypto and blockchain is making them more profitable.

Cryptocurrency Investment : RBI के गवर्नर शक्तिकांत दास बार-बार क्रिप्टो करेंसी और उसके निवेशकों को चेतावनी दे रहे हैं, लेकिन क्रिप्टो में निवेश करनेवाले इस इशारे को नजरअंदाज कर रहे है।

निवेशक लगातार क्रिप्टो में अपना निवेश बढ़ा रहे हैं। भारत के प्रमुख क्रिप्टोक्यूरेंसी एक्सचेंज वज़ीरएक्स की हालिया रिपोर्ट के अनुसार क्रिप्टोकरेंसी को विनियमित करने की तैयारी के बावजूद, भारतीय निवेशक क्रिप्टो में भारी निवेश कर रहे हैं और निवेशकों के पोर्टफोलियो में क्रिप्टो की हिस्सेदारी लगातार बढ़ रही है।

Trade Crypto for Less Coin | Interactive Brokers LLC

डेटा कंपनी पिचबुक के डेटा से पता चलता है कि अकेले 2021 में वेंचर कैपिटल फंड हाउस ने क्रिप्टो में $ 30 बिलियन का निवेश किया है। यह पिछले वर्षों में किए गए कुल निवेश से अधिक है।

क्रिप्टो को लॉन्च हुए केवल 10 साल ही हुए हैं, लेकिन इसकी लोकप्रियता बहुत बढ़ गई है। 2018 में, क्रिप्टो में कुल $8 बिलियन का निवेश किया गया था। इससे आपको अंदाजा हो जाता है कि कैसे डिजिटल संपत्ति मुख्यधारा में आ रही है।

वर्ष 2021 क्रिप्टो ईयर

क्रिप्टो एक्सचेंज वज़ीरएक्स ने वर्ष 2021 को क्रिप्टोकरंसी का वर्ष बताया है और अपनी रिपोर्ट में एक सर्वेक्षण का हवाला देते हुए कहा है कि निवेशकों के पोर्टफोलियो का 10 प्रतिशत अब क्रिप्टो है।

एक और सर्वे में सामने आया है कि क्रिप्टो करोड़पति युवाओं की पहली पसंद बन गया है, अमेरिका में ज्यादातर युवा करोड़पति अपना पैसा क्रिप्टो करेंसी में लगा रहे हैं, ऐसा ही ट्रेंड दुनिया के और भी कई देशों में देखने को मिल रहा है।

लेकिन कुछ देशों ने इसे कानूनी मान्यता दे दी है, जबकि भारत में क्रिप्टो का भविष्य अभी स्पष्ट नहीं है, इसके बावजूद लोग बिना किसी डर के इसमें पैसा लगा रहे हैं।

Planning to invest in cryptocurrency? You should know about these three  types of transaction fees - The Financial Express

भारत में क्रिप्टोकरेंसी के मामले में भले ही स्थिति स्पष्ट न हो, लेकिन दुनिया के कई देशों में बहुराष्ट्रीय कंपनियां भुगतान के लिए क्रिप्टो को अपना रही हैं।

एक वैश्विक सर्वेक्षण के अनुसार, लगभग 57 प्रतिशत बहुराष्ट्रीय कंपनियां कम से कम एक क्रिप्टोकरेंसी का उपयोग कर रही हैं, जिसमें बिटकॉइन सबसे लोकप्रिय है।

यह स्टडी कम से कम 10 मिलियन डॉलर कमाने वाली 250 मल्टीनेशनल कंपनियों पर की गई थी। दस से अधिक देशों में काम करने वाली 69 प्रतिशत कंपनियां क्रिप्टोकरेंसी और ब्लॉकचेन का उपयोग करती हैं।

40 प्रतिशत से अधिक कंपनियों का मानना ​​है कि वे भुगतान के नए स्रोत तलाशती रहती हैं। इस वजह से उन्हें क्रिप्टो में दिलचस्पी है। 34% कंपनियों के अनुसार, क्रिप्टो और ब्लॉकचेन का उपयोग करना उन्हें अधिक लाभदायक बना रहा है।