अगले साल से महंगे हो रहे प्लान्स | खत्म हो सकती है फ्री कॉलिंग और सस्ता डेटा

आपका मोबाइल बिल अगले साल से बढ़ने जा रहा है। रिपोर्ट की मानें, तो तीनों दिग्गज टेलीकॉम कंपनियां प्रीपेड प्लान्स की कीमत बढ़ा सकती हैं।

ऐसा कहा जा रहा है कि इसकी शुरुआत वोडाफोन-आइडिया (Vi) करेगी और फिर रिलायंस जियो व एयरटेल भी कीमत में बढ़ोतरी का ऐलान कर देंगी।

बता दें कि यह तीनों ही कंपनियां टेलीकॉम रेगुलेटरी अथॉरिटी ऑफ़ इंडिया (Trai) से फ्लोर प्राइस की घोषणा करने का अनुरोध करती आ रही है।

फ्लोर प्राइस किसी सर्विस की वह कीमत होती है जिससे कम पर उसे नहीं दिया जा सकता। फिलहाल टेलीकॉम कंपनियों ने ही कॉलिंग और डेटा की कीमत निर्धारित की हुई है।

फ्री कॉलिंग और सस्ता डेटा नहीं मिलेगी 

न्यूनतम फ्लोर प्राइस निर्धारित करने का सीधा मतलब है कि हो सकता है अगले साल से आपको फ्री कॉलिंग और सस्ता डेटा ना मिले।

कंपनियां चाहती हैं कि उनका एवरेज रेवेन्यू पर यूजर (ARPU) बढ़कर ₹300 प्रति महीना हो जाए। vodafone-idea मार्च में कीमत बढ़ोतरी का ऐलान कर सकती है।

ICICI सिक्यॉरिटीज की रिपोर्ट के मुताबिक, टैरिफ हाइक से भारती एयरटेल और वोडाफोन आइडिया के ARPU में वित्तिय वर्ष 2022 में 20 फीसदी की बढ़ोतरी हो सकती है।

दिसंबर 2019 में हुई थी टैरिफ हाइक

बता दें कि आखिरी बार दिसंबर 2019 में तीनों कंपनियों ने अपने प्लान 25 से 40 फीसदी तक महंगे कर दिए थे। उस समय रिलायंस जियो ने अन्य नेटवर्क पर अनलिमिटेड कॉलिंग को भी खत्म कर दिया था।

साल 2020 में भी प्राइस हाइक होनी थी, लेकिन कोरोना वायरस और फ्लोर प्राइस पर अनिश्चितता के चलते इसे टाल दिया गया था।

Leave a Comment

%d bloggers like this: