PM Narendra Modi Punjab Security Lapse : अपने CM को धन्यवाद कहना, कि मैं भटिंडा हवाई अड्डे तक जिंदा लौट आया | सुरक्षा में चूक के बाद बोले PM मोदी

279
PM Narendra Modi Punjab Security Lapse

भटिंडा : पंजाब में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) के दौरे में सुरक्षा कि बड़ी चूक का मामला सामने आया है। घटना के बाद बठिंडा हवाई अड्डे के अधिकारियों का भी बयान सामने आया है।

बठिंडा हवाई अड्डे के अधिकारियों ने एएनआई को बताया कि बठिंडा हवाई अड्डे पर लौटने पर पीएम मोदी ने वहां के अधिकारियों से कहा, “अपने सीएम (Punjab CM Charanjit Channi) को धन्यवाद कहना, कि मैं बठिंडा हवाई अड्डे तक जिंदा लौट आया।

पंजाब में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) बुधवार को सड़क मार्ग से जाते समय एक फ्लाईओवर पर 15 से 20 मिनट के लिए उस वक्त फंस गए जब कुछ प्रदर्शनकारियों ने रास्ते को रोक दिया। गृह मंत्रालय ने इस घटना को प्रधानमंत्री की सुरक्षा में गंभीर चूक करार दिया है।

Huge lapse in Prime minister security in Punjab PM Modi stuck on flyover for 20 minutes - पंजाब में प्रधानमंत्री की सुरक्षा में भारी चूक, 20 मिनट तक फ्लाईओवर पर फंसे रहे PM मोदी

प्रधानमंत्री की सुरक्षा में गंभीर उल्लंघन के कारण उनके काफिले को 15 से 20 मिनट तक रोका गया। उसके बाद, प्रधान मंत्री मोदी को दौरा रद्द करना पड़ा और दिल्ली लौटना पड़ा। उस वक्त भटिंडा एयरपोर्ट पहुंचे प्रधानमंत्री ने वहां के स्टाफ को संदेश भेजा।

प्रधानमंत्री मोदी ने अपना दौरा रद्द कर दिया और दिल्ली लौटने के लिए भटिंडा एयरपोर्ट पहुंचे। उन्होंने मौके पर मौजूद कर्मचारियों से बातचीत की। हवाई अड्डे के कर्मचारीयो से कहा, “इस बार हवाईअड्डे तक सुरक्षित पहुंचने के लिए मुख्यमंत्री का धन्यवाद।”

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का बुधवार को पंजाब का दौरा होना था। दौरे के दौरान फिरोजपुर में प्रधानमंत्री की एक बैठक हुई। हालाँकि, वह फ़िरोज़पुर नहीं जा सके क्योंकि सुरक्षा उल्लंघन किया गया।

इसी बीच प्रधानमंत्री के रास्ते में कुछ प्रदर्शनकारियों की अचानक भीड़ लग गई और उनका काफिला रुक गया। करीब 15 से 20 मिनट तक काफिला रुका रहा।

इससे प्रधानमंत्री की सुरक्षा व्यवस्था पर गंभीर सवाल खड़े हो गए। इस कारण उनका पूरा दौरा रद्द कर दिया गया और प्रधानमंत्री से दिल्ली लौटने का अनुरोध किया गया।

केंद्र बनाम राज्य सरकार

ऐसे संकेत मिल रहे हैं कि प्रधानमंत्री की सुरक्षा में सेंध को लेकर अब केंद्र सरकार और राज्य सरकार के बीच विवाद छिड़ गया है. केंद्रीय गृह मंत्रालय इस तरह की जांच कराने की तैयारी कर रहा है।

पंजाब विधानसभा चुनाव और किसान आंदोलन की पृष्ठभूमि दोनों को देखते हुए इस बात के संकेत हैं कि निकट भविष्य में इस घटना का बड़ा असर होगा।

PM राष्ट्रीय शहीद स्मारक जा रहे थे

गृह मंत्रालय ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के काफिले ने अपने पंजाब दौरे के दौरान एक गंभीर सुरक्षा उल्लंघन के बाद वापस लौटने का फैसला किया।

बयान में यह भी कहा गया है कि मंत्रालय ने पंजाब सरकार से इस चूक के लिए जवाबदेही तय करने और सख्त कार्रवाई करने को कहा है। प्रधान मंत्री बठिंडा से हुसैनीवाला में राष्ट्रीय शहीद स्मारक जा रहे थे, जब यह घटना हुई।

चन्नी सरकार मुसीबत में फंस गई

अब इस घटना को लेकर चन्नी सरकार मुसीबत में फंस गई है. गृह मंत्रालय ने तो तलब किया ही है, बीजेपी के दिग्गज नेता भी कांग्रेस पर गंभीर आरोप लगा रहे हैं।

बीजेपी अध्यक्ष जेपी नड्डा ने कहा कि अपनी घटिया हरकतों से पंजाब की कांग्रेस सरकार ने दिखा दिया है कि वे विकास विरोधी हैं और स्वतंत्रता सेनानियों के लिए भी उनके मन में कोई सम्मान नहीं है।

नड्डा ने ये भी कहा कि सबसे ज्यादा चिंता की बात ये है कि यह घटना पीएम मोदी की सुरक्षा में बड़ी चूक थी। पंजाब के प्रमुख सचिव और डीजीपी से एसपीजी को कहा गया था कि पीएम मोदी का रूट साफ है, इसके बावजूद वहां प्रदर्शनकारियों को जाने दिया गया। इससे भी बुरी बात ये है कि सीएम चन्नी ने फोन पर बात करने और मामले को सुलझाने से इनकार कर दिया।

लेकिन इस पूरे विवाद पर कांग्रेस का कहना है कि आखिरी समय में पीएम मोदी का रूट बदल दिया गया था. उन्हें हवाई मार्ग से जाना था, लेकिन वे सड़क से आए।

पूरे विवाद का ये वो पहलू जिस पर गृह मंत्रालय और कांग्रेस आमने-सामने है. MHA ने जोर देकर कहा है कि राज्य सरकार को पहले ही सूचित कर दिया गया था, लेकिन कांग्रेस इसका खंडन कर रही है। ऐसे में चुनावी मौसम में ये मुद्दा काफी बड़ा बन गया है और आरोप-प्रत्यारोप का दौर जारी है।