दहल उठा नागपुर | पति को अनैतिक संबंधों की जानकारी देने पर दोहरा हत्याकांड, दोनो गिरफ्तार 

239
PUBG Murder: child cannot kill mother, team said after questioning; Doubt raised by these questions and answers

नागपुर: पति को अनैतिक संबंधों की जानकारी देने से नाराज उसकी भांजी ने प्रेमी की मदद से बडी बेहरमी से दो हत्याये कर दी।

स्थानीय अपराध शाखा पुलिस ने महज 36 घंटे में हत्यारे की भतीजी और उसके प्रेमी को गिरफ्तार कर लिया। पुलिस ने उसके दो नाबालिग साथियों को भी गिरफ्तार किया है।

मृतकों की पहचान संदीप मिश्रा (60), जयवंता भगत (45, दोनों मौली, रामटेक निवासी), रितु बागबंदे (32, बालाघाट) और महेश भय्यालाल नागपुरे (41, सालेक्सा) के रूप में हुई है।

पुलिस के मुताबिक संदीप जयवंता का कथित भाई था। पिछले छह साल से दोनों काम कर रहे हैं और रामटेक के एक खेत में रह रहे हैं। करीब दो महीने पहले जयवंता की भतीजी रितु और उसका बॉयफ्रेंड महेश रामटेक आया था। वे दोनों उसके साथ रहते थे और दूसरे क्षेत्रों में काम करते थे।

जयवंता ने इस बारे में रितु के पति को बताया। इसलिए उसका पति रामटेक आया। उसने रितु को मारा। साथ ले गया रितु और महेश को गुस्सा तब आया जब उन्होंने अपने पति को प्रेम प्रसंग के बारे में बताया।

दो दिन पहले रितु, महेश और उनके दो नाबालिग साथी कार से रामटेक आए थे। उसने संदीप और जयवंता दोनों को जबरन कार में बिठा लिया।

कुछ दूर चलने के बाद महेश ने संदीप को कुल्हाड़ी से मार डाला। उसके शव को रामटेक के जंगल में फेंक दिया गया था। उसके बाद जयवंता की भी कुल्हाड़ी से हत्या कर दी गई। उनके शवों को भी भंडारा के पास जंगल में फेंक दिया गया और हत्यारे भाग गए।

संदीप का शव मंगलवार शाम को मिला था। रामटेक पुलिस ने मामले में हत्या समेत कई मामले दर्ज किए हैं। जांच के दौरान पुलिस को पता चला कि संदीप के साथ रहने वाला जयवंता भी लापता है।

पुलिस अधीक्षक विजय कुमार मगर ने रामटेक से संपर्क किया और स्थानीय अपराध शाखा और रामटेक पुलिस को हत्या की जांच के निर्देश दिए।

मगर के मार्गदर्शन में रामटेक के थानेदार प्रमोद मकेश्वर, स्थानीय अपराध शाखा के निरीक्षक ओमप्रकाश कोकाटे, सहायक निरीक्षक राजीव कर्मलवार, जितेंद्र वैरागड़े, विवेक सोनावने, हेड कांस्टेबल गजेंद्र चौधरी, विनोद काले, नाना राउत, प्रणय बनफर, वीरेंद्र नारद, रूपाली कामराबनका ने तलाश जारी कर दि है।

लड़की ने की पहचान की पुष्टि

जयवंता का शव कोषागार में मिला था। इसकी जानकारी स्थानीय अपराध शाखा पुलिस को मिली। स्थानीय अपराध शाखा पुलिस ने जयवंता की बेटी की पहचान की।

स्थानीय क्राइम ब्रांच को पता चला कि रितु अपने ब्वॉयफ्रेंड के साथ रामटेक आई थी। स्थानीय क्राइम ब्रांच पुलिस बालाघाट पहुंची। रितु और दो नाबालिग हत्यारों को गिरफ्तार किया गया। एक अन्य दस्ते ने महेश को सालेक्सा इलाके से गिरफ्तार किया। उसे रामटेक पुलिस के हवाले कर दिया गया।