स्किलिंग, रीस्किलिंग और अपस्किलिंग देश के युवाओं के लिए नया मंत्र : पीएम मोदी

40
Skilling, reskilling and upskilling is new mantra for youth of country: PM Modi

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को देश के युवाओं को स्किलिंग, रीस्किलिंग और अपस्किलिंग का मंत्र दिया। उन्होंने युवाओं को बदलते समय के अनुसार अपने कौशल को लगातार उन्नत करने और नवाचार करने का आह्वान किया।

प्रधानमंत्री ने कहा कि केंद्र सरकार भारत में कौशल विकास को बढ़ावा देने के लिए 5,000 से अधिक नए ‘कौशल हब’ खोलने जा रही है।

पीएम ने वर्चुअल मोड में आईटीआई (औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान) के छात्रों के पहले दीक्षांत समारोह को संबोधित किया। उन्होंने कहा कि तकनीक के विकास से देश में रोजगार के अवसर बढ़ रहे हैं।

5000 नए आईटीआई खोले गए

उन्होंने कहा, आपको भविष्य के अनुकूल अपने कौशल को अपग्रेड करना होगा। इसलिए आपका मंत्र स्किलिंग, रीस्किलिंग और अपस्किलिंग होना चाहिए। छात्रों को अपने क्षेत्र में नवीनतम विकास पर नजर रखनी चाहिए।

देश में पहला आईटीआई 1950 में स्थापित किया गया था। अगले सात दशकों में देश में लगभग 10,000 आईटीआई खोले गए।

प्रधानमंत्री ने बताया कि उनकी सरकार के कार्यकाल में पिछले आठ वर्षों में देश में करीब 5,000 नए आईटीआई खोले गए हैं।

अनुभव आधारित शिक्षा को प्रोत्साहित किया जा रहा है

नरेंद्र मोदी ने कहा कि इस दौरान संस्थानों में 4 लाख से ज्यादा सीटें जोड़ी गई हैं। नई शिक्षा नीति के तहत अनुभव आधारित शिक्षा को भी बढ़ावा दिया जा रहा है।

मोदी ने कहा, आप सभी देख रहे हैं कि भारत आज अक्षय ऊर्जा, सौर ऊर्जा और इलेक्ट्रिक वाहनों के क्षेत्र में कैसे प्रगति कर रहा है। कई आईटीआई में इन क्षेत्रों से संबंधित पाठ्यक्रम शुरू करने से नौकरी चाहने वालों को अधिक सुविधा मिलेगी।