UP Election 2022 : अपर्णा यादव के बीजेपी में जाने पर बोले अखिलेश यादव ‘नेताजी ने बहुत समझाया’

189
UP Election 2022: On Aparna Yadav joining BJP, Akhilesh Yadav said, 'Netaji explained a lot'

UP Election 2022 : अपर्णा यादव (Aparna Yadav) के बीजेपी में शामिल होने पर अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) का बयान आया है। उन्होंने कहा कि नेताजी (Mulayamsing Yadav) ने अपर्णा यादव को बहुत समझाया था, लेकिन वह नहीं मानी। उन्होंने अपर्णा को भाजपा में शामिल होने पर बधाई भी दी।

विधानसभा चुनाव लड़ेंगे अखिलेश? इस सवाल पर उन्होंने कहा कि मैं आजमगढ़ के लोगों की अनुमति से ही चुनाव लड़ूंगा।

ऐसा इसलिए है क्योंकि वहां के लोगों ने हमें जिताया है। बता दें कि अखिलेश आजमगढ़ से सांसद हैं। बुधवार को ही विधानसभा चुनाव लड़ने की चर्चा सामने आई थी।

अखिलेश यादव ने यह भी वादा किया कि अगर उनकी सरकार बनी तो समाजवादी पार्टी की पेंशन योजना फिर से शुरू की जाएगी। इसमें जरूरतमंद महिला को सालाना 18 हजार रुपये दिए जाएंगे।

पिछली सपा सरकार में 6 हजार रुपए दिए जाते थे। अखिलेश ने कहा कि ज्यादातर खाते एसपी, अधिकतम बैंक शाखा द्वारा खोले गए और सीधे खाते में जाने का काम भी एसपी में किया गया।

अपर्णा को नेताजी ने समझाया था – अखिलेश यादव

अपर्णा से जुड़े सवाल पर अखिलेश यादव ने कहा कि सबसे पहले मैं आपको बधाई देता हूं और कामना करता हूं कि सपा की विचारधारा का विस्तार हो रहा है। मुझे उम्मीद है कि वहां भी हमारी विचारधारा होगी।

क्या अपर्णा टिकट न मिलने पर गई थी? इस पर अखिलेश ने कहा कि टिकटों का पूरा बंटवारा नहीं हुआ है, यह आंतरिक रिपोर्ट और जनता के दिमाग पर निर्भर करता है कि टिकट किसे मिलेगा और किसे नहीं।

अखिलेश ने पत्रकारों के सवाल पर आगे कहा कि मैंने कहा था कि अब हम बीजेपी वालों को नहीं लेंगे। अगर हम उनके संपर्क में हैं, तो वे भी हमारे संपर्क में हैं। अखिलेश ने योगी सरकार पर हमला बोलते हुए कहा कि गाय मां भूखी है और जो कोई उसे भूखा रखता है उसका पाप होता है।

अखिलेश ने सपेरे समाज का किया जिक्र

अखिलेश यादव ने सपेरे समाज के लोगों का भी जिक्र किया। उन्होंने कहा कि भारत की पुरानी छवि भी सपेरे देश की है। उन्होंने कहा कि अगर 2022 में सपा की सरकार बनती है तो आगरा एक्सप्रेस-वे के पास सपेरों का गांव बनेगा।

अखिलेश ने यह भी बताया कि सुप्रीम कोर्ट के वरिष्ठ अधिवक्ता भानु प्रताप सिंह की राष्ट्रीय जनहित संघर्ष पार्टी समाजवादी पार्टी में शामिल हो रही है।

आपको बता दें कि सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी, राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी, पीपुल्स पार्टी (समाजवादी), राष्ट्रीय लोक दल (रालोद), अपना दल (कम्युनिस्ट), प्रगतिशील समाजवादी पार्टी (लोहिया), महान दल, टीएमसी ने भी यूपी चुनाव के लिए गठबंधन किया था।

अपर्णा ने की पीएम मोदी की तारीफ

इससे पहले अपर्णा यादव से जब बीजेपी में शामिल होने के बाद अखिलेश यादव के बारे में पूछा गया तो उन्होंने कोई प्रतिक्रिया नहीं दी।

अपर्णा से पूछा गया कि क्या अखिलेश यादव, एसपी राष्ट्रीय धर्म का पालन नहीं करते हैं? इस पर अपर्णा ने कहा कि वह परिवार से मुंह मोड़कर कुछ नहीं कहना चाहती हैं।

उन्होंने कहा कि यह मेरी निजी राय है कि पिछले पांच साल में जिस तरह से सीएम योगी ने राज्य में काम किया है, जितनी योजनाएं आई हैं, वह प्रभावशाली है। उन्होंने पीएम मोदी की भी तारीफ की।