Home Sports Virat Kohli Retirement : विराट कोहली ने छोड़ा भारत के टेस्ट कप्तान...

Virat Kohli Retirement : विराट कोहली ने छोड़ा भारत के टेस्ट कप्तान का पद, साउथ अफ्रीका से मिली हार के बाद की घोषणा

142

Virat Kohli Retirement : दक्षिण अफ्रीका (South Africa) के खिलाफ सीरीज में मिली हार के बाद विराट कोहली (Virat Kohli) ने टेस्ट कप्तान (Test Captain) का पद भी छोड़ दिया है।

कोहली ने यह बड़ी घोषणा अपने ट्विटर पर अकाउंट के जरिए की है। उन्होंने 2014 में यह पद संभाला था। उन्होंने भारत के सबसे सफल टेस्ट कप्तान के पद से इस्तीफा दे दिया।

भारत के दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ तीसरा टेस्ट मैच हारने के एक दिन बाद कोहली ने इस फैसले की घोषणा की। टीम इंडिया 1-2 से टेस्ट सीरीज हार गई।

सोशल मीडिया पर शेयर किए गए एक बयान में, कोहली ने टीम के पूर्व मुख्य कोच रवि शास्त्री, भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (BCCI) और पूर्व भारतीय कप्तान एमएस धोनी को उनके कार्यकाल के दौरान मार्गदर्शन देने के लिए धन्यवाद दिया।

उन्होंने कहा, “मैं BCCI को धन्यवाद देना चाहता हूं कि उसने मुझे इतने लंबे समय तक अपने देश का नेतृत्व करने का मौका दिया और इससे भी सबसे अहम बात यह है कि टीम के उन सभी साथियों को, जिन्होंने टीम के लिए पहले दिन से ही मेरी सोच को अपनाया और किसी भी स्थिति में कभी हार नहीं मानी। आप लोगों ने इस सफर को इतना यादगार और खूबसूरत बना दिया है।”

कोहली ने कहा, “रवि भाई और सपोर्ट ग्रुप के लिए, जो इस गाड़ी के इंजन थे, जिसने हमें लगातार टेस्ट क्रिकेट में ऊपर की ओर ले जाया, आप सभी ने इस दृष्टि को जीवन में लाने में एक बड़ी भूमिका निभाई है।”

उन्होंने आगे कहा, “अंत में, एमएस धोनी को बहुत-बहुत धन्यवाद, जिन्होंने मुझ पर विश्वास किया और मुझे एक सक्षम व्यक्ति के रूप में पाया, जो भारतीय क्रिकेट को आगे ले जा सकता था।”

कोहली ने आगे कहा, “किसी न किसी स्तर पर सबको रुकना पड़ता है और मेरे लिए अब यह, भारत के टेस्ट कप्तान के रूप में है।”

उन्होंने कहा कि मैं हमेशा अपने हर काम में 120 फीसदी देने में विश्वास रखता हूं और अगर मैं ऐसा नहीं कर सकता, तो मुझे पता है कि यह करना सही नहीं है। मेरे दिल में पूरी सफाई है और मैं अपनी टीम के प्रति बेईमान नहीं हो सकता।

वहीं BCCI के सचिव जय शाह ने कहा, “टीम इंडिया के कप्तान के रूप में शानदार कार्यकाल के लिए विराट कोहली को बधाई।

विराट ने टीम को एक फिट इकाई में बदल दिया, जिसने भारत और बाहर दोनों जगह सराहनीय प्रदर्शन किया, इसमें ऑस्ट्रेलिया और इंग्लैंड में टेस्ट में मिली जीत खास रही।”

%d bloggers like this: