World Blood Donor Day 2022 : कौन रक्तदान कर सकता है, किस ग्रुप को कौन सा रक्त चढ़ाया जा सकता है?

42
World Blood Donor Day 2022

World Blood Donor Day 2022 | विश्व रक्तदाता दिवस 2022 : 14 जून का इतिहास और महत्व: विश्व रक्तदाता दिवस हर साल 14 जून को मनाया जाता है। यह लोगों को रक्तदान के महत्व के बारे में जागरूकता फैलाने के लिए मनाया जाता है।

साथ ही, यह दिन स्वैच्छिक और अवैतनिक रक्त दाताओं के योगदान का सम्मान करने के लिए भी मनाया जाता है। रक्त किसी भी शरीर के लिए बहुत महत्वपूर्ण होता है।

जो लोग बीमार होते हैं उन्हें भी कई बार रक्त की आवश्यकता होती है, जहां लोग रक्तदान कर अपनी जान बचाते हैं। विश्व रक्तदान दिवस के दिन लोग अस्पतालों या रक्तदान शिविरों में जाकर स्वयं रक्तदान करते हैं।

विश्व रक्तदाता दिवस का इतिहास क्या है?

दुनिया भर में कई चिकित्सा प्रक्रियाओं के लिए रक्त आवश्यक है। विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) ने वर्ष 2004 में पहली बार विश्व रक्तदाता दिवस मनाया।

ताकि सभी देशों को बीमार लोगों को बचाने के लिए रक्त की आवश्यकता को पूरा करने के लिए रक्त दाताओं के निस्वार्थ प्रयास को स्वीकार करने के लिए प्रोत्साहित किया जा सके।

इस दिन नोबेल पुरस्कार विजेता कार्ल लैंडस्टीनर की जयंती है। 14 जून, 1868 को जन्मे कार्ल को एबीओ ब्लड ग्रुप सिस्टम की खोज करके स्वास्थ्य विज्ञान में उनके योगदान के लिए पुरस्कार मिला।

विश्व रक्तदाता दिवस 2022 का विषय क्या है?

वर्ल्ड ब्लड डोनर डे 2022 की क्या है थीम?
वर्ल्ड ब्लड डोनर डे की थीम हर साल डब्ल्यूएचओ द्वारा तय की जाती है। इस साल का नारा ‘रक्तदान एक एकजुटता का कार्य है।’

यह विषय उन लोगों पर केंद्रित है जो जीवन बचाने और समुदायों के भीतर एकजुटता बढ़ाने के लिए स्वेच्छा से रक्तदान करते हैं।

लोगों से अपील की जाती है कि ज्यादा से ज्यादा लोग ब्लड दान करें ताकि अस्पतालों में जिंदगी और मौत के बीच जंग लड़ रहे लोगों को नई जिंदगी मिल सके।

जानिए कौन किसको खून दे सकता है?

सभी को पूरा रक्त नहीं चढ़ाया जा सकता है। अगर किसी का ब्लड ग्रुप A+ है, तो ऐसा ब्लड A+ और AB+ को दिया जा सकता है। A- ब्लड ग्रुप के लोगों का ब्लड AB-, A-, A+ में ट्रांसफ्यूज किया जा सकता है।

वहीं, अगर B+ वाला व्यक्ति B+ और AB+ को ब्लड दे सकता है। अगर किसी का ब्लड ग्रुप O+ है तो वह अपना ब्लड A+, B+, AB+, O+ को दे सकता है। इसके साथ ही AB+ ब्लड ग्रुप वाला व्यक्ति AB+ को ब्लड दे सकता है।

रक्तदान कौन कर सकता है?

जब भी लोग रक्तदान करने के बारे में सोचते हैं तो उनके मन में एक सवाल आता है कि क्या वे रक्तदान कर सकते हैं? क्या यह कोई समस्या नहीं होगी? डॉक्टरों के अनुसार, कोई भी स्वस्थ वयस्क, पुरुष और महिला दोनों, रक्तदान कर सकते हैं।

पुरुष हर तीन महीने में एक बार सुरक्षित रूप से रक्तदान कर सकते हैं जबकि महिलाएं हर चार महीने में रक्तदान कर सकती हैं।

वहीं, रक्तदाता की न्यूनतम आयु 18 वर्ष होनी चाहिए, जबकि 65 वर्ष से अधिक आयु के लोग रक्तदान कर सकते हैं। वहीं, वजन 45 किलो से कम नहीं होना चाहिए।